उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2022: PLI Yojana ऑनलाइन आवेदन व लाभ


उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना ऑनलाइन आवेदन करे और PLI Yojana आवेदन फॉर्म डाउनलोड एवं योजना के लाभ, मुख्य तथ्य व पात्रता जाने

हमारा देश प्रत्येक क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन रहा है। देश को उत्पादन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने मेक इन इंडिया नाम से भी एक कैंपेन लांच किया था। जिसकी वजह से देश में उत्पादन बढ़ा है। सरकार देश में उत्पादन बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास करती है। इसी वजह से सरकार समय-समय पर योजनाएं आरंभ करती रहती है। आज हम आपको ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जिसका नाम उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना है। इस लेख को पढ़कर आपको इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जैसे कि लाभ, उद्देश्य, पात्रता, विशेषताएं, आवेदन प्रक्रिया, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन स्थिति, लाभार्थी सूची आदि। यदि आप PLI Yojana 2022 से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को विस्तार से पढ़ें।

PLI Yojana 2022

इस योजना का आरंभ 11 नवंबर 2020 को किया गया था। जिसके अंतर्गत घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत अगले 5 साल में दो लाख करोड़ रुपए 10 प्रमुख क्षेत्रों पर खर्च किए जाएंगे। PLI Yojana 2022 के माध्यम से घरेलू विनिर्माण की बढ़ोतरी होगी तथा आयात पर निर्भरता कम होगी और निर्यात बढ़ेगी। जिससे कि इक्नॉमी बेहतर होगी। उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के माध्यम से बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी। सरकार द्वारा यह जानकारी दी गई है कि इस योजना पर 1,45,980 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इस योजना के माध्यम से आत्मनिर्भर भारत अभियान को भी बढ़ावा मिलेगा तथा उत्पादन को बढ़ोतरी मिलेगी। इस योजना के अंतर्गत 25 फ़ीसदी कॉरपोरेट टैक्स रेट में भी कटौती की जाएगी।

PLI Yojana

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना पंजीकरण

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना को घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना को आरंभ करने का एक उद्देश्य एशिया में भारत को वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनाना भी है। इस योजना के अंतर्गत आने वाले सेक्टरों को धनराशि प्रदान की जाएगी। जिससे कि वह मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में आगे बढ़ पाए। सूत्रों के अनुसार इस योजना के अंतर्गत 8 और सेक्टर को शामिल किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत चरणबद्ध निर्माण योजना से भी सहारा लिया जाएगा। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा।

Key Highlights Of Production Based Incentive Scheme 2022

योजना का नाम उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना
किस ने लांच की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देना
आधिकारिक वेबसाइट जल्दी लॉन्च की जाएगी
साल 2022
आरंभ होने की तिथि 11 नवंबर 2020
बजट 2 लाख करोड़

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत सेक्टर

Production Based Incentive Scheme 2022 के अंतर्गत सरकार द्वारा 10 सेक्टर शामिल किए गए हैं जो कि कुछ इस प्रकार है:-

  • एडवांस केमिकल सेल बैटरी
  • इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स
  • ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स
  • फार्मास्यूटिकल ड्रग्स
  • टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट
  • टेक्सटाइल उत्पादन
  • फूड प्रोडक्ट्स
  • सोलर पीवी माड्यूल
  • व्हाइट गुड्स
  • स्पेशलिटी स्टील

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2022 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देना है। इस योजना के माध्यम से देश को आत्म निर्भरता की तरफ आगे बढ़ाया जाएगा। Production Based Incentive Scheme 2022 के माध्यम से देश के विभिन्न उत्पादन सेक्टरों को धनराशि प्रदान की जाएगी। जिससे कि वह अपने कारोबार को आगे बढ़ा सके। इस योजना के माध्यम से रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे, विदेशी कंपनियां भी भारत में उत्पाद करने के लिए प्रोत्साहित होंगी। इस योजना के माध्यम से निर्यात बढ़ेगा तथा आयात में कमी आएगी। जिससे कि देश की इकोनॉमी बेहतर होगी।

PLI Yojana 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • इस योजना का आरंभ 11 नवंबर 2020 को किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • PLI Yojana 2022 का बजट अगले 5 साल के लिए 2 लाख करोड़ों रुपए है।
  • इस योजना के माध्यम से 10 प्रमुख क्षेत्रों पर यह धनराशि खर्च की जाएगी।
  • उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के माध्यम से आयात में कमी आएगी तथा निर्यात बढ़ेगा। जिससे कि इक्नॉमी बेहतर बनेगी।
  • इस योजना के माध्यम से बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी।
  • आत्मनिर्भर भारत अभियान को भी इस योजना के माध्यम से बढ़ोतरी मिलेगी।
  • Production Based Incentive Scheme 2022 के माध्यम से 25 फ़ीसदी कॉरपोरेट टैक्स रेट में भी कटौती होगी।
  • इस योजना के माध्यम से भारत को एशिया का वैकल्पिक वैश्विक मैन्युफैक्चरिंग केंद्र बनाया जा सकेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत आने वाले सेक्टरों को आगे बढ़ाने के लिए धन राशि प्रदान की जाएगी।
  • PLI Yojana 20212 के अंतर्गत चरणबद्ध निर्माण योजना से भी सहारा लिया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत जीडीपी का 16 फ़ीसदी योगदान होगा।

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत प्रत्येक क्षेत्र का बजट

क्षेत्र बजट
एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरी 18,100 करोड़ रुपये
इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट 5000 करोड़ रुपये
ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स 57,042 करोड़ रुपये
फार्मास्यूटिकल ड्रग्स 15000 करोड़ रुपये
टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट 12,195 करोड़ रुपये
टेक्सटाइल उत्पाद 10,683 करोड़ रुपये
फूड प्रोडक्ट्स 10,900 करोड़ रुपये
सोलर पीवी माड्यूल 4500 करोड़ रुपये
व्हाइट गुड्स 6,238 करोड़ रुपये
स्पेशलिटी स्टील 6,322 करोड़ रुपये

Utpadan Adharit Protsahan Yojana के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज (पात्रता)

  • आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • मैन्युफैक्चरिंग प्रमाण पत्र

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ वक्त इंतजार करना होगा। सरकार द्वारा यह योजना अभी लांच की गई है। जल्द ही इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट लांच की जाएगी। जैसे ही सरकार द्वारा इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च की जाएगी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2022 में आवेदन करने की संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारे इस लेख से जुड़े रहना होगा।

Leave a Comment